350 ऑक्सीजन सिलेंडर के बाद…

कमलनाथ-नकुलनाथ ने छिंदवाड़ा को दिए 15 वेंटिलेटर

छिंदवाड़ा। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ और छिंदवाड़ा सांसद नकुल नाथ अपने गृहजिले की जनता की सुरक्षा के लिए सतत प्रयार रहे हैं. कोरोना महामारी से लड़ने के लिए छिंदवाड़ा जिला प्रशासन को हर वो उपकरण मुहैया करा रहे हैं जिसकी नितांत आवश्यकता है. चाहें वो रेमडेसिविर इंजेक्शन, ऑक्सीजन, ऑक्सीजन सिलेंडर, फेबिफ्ल्यू टैबलेट और वेंटिलेटर ही क्यों ना हो. 

कमलनाथ और नकुल नाथ ने अपने गृह जिले के लिए स्वयं के खर्च पर 15 वेंटिलेटर भेजे हैं, जो स्थानीय कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पदाधिकारियों ने प्रशासन को सौंपे गए हैं.वर्तमान चिकित्सा प्रणाली में वेंटिलेटर एक ऐसा जीवनदाई उपकरण है. जिसकी अस्पतालों में उपलब्ध होने से गंभीर मरीज के प्राणों की रक्षा की जा रही है. सांसद नकुलनाथ ने बीते वर्ष 2 वेंटिलेटर जिला अस्पताल को भेंट किए थे. इस बार कोरोना महामारी और इसकी विकरालता से निपटने के लिए नकुल और कमल नाथ ने यह निर्णय लिया कि वेंटिलेटर सम्पूर्ण जिले में उपलब्ध कराये जाने चाहिए और उन्होंने अपने माध्यम से जिले को निशुल्क 15 वेंटिलेटर प्रदान किए हैं. 

पूर्व मंत्री दीपक सक्सेना ने बताया कि वर्तमान में सम्पूर्ण प्रदेश व देश के विभिन्न प्रदेशों में वेंटिलेटर की सर्वाधिक आवश्यकता है. निर्माता कंपनियां वेंटिलेटर की मांग की तुलना में उसकी आपूर्ति करने में सक्षम नहीं है और तो और यह मशीन मुंह मांगे दामों पर भी प्रदेश व देश के बाजारों में उपलब्ध नहीं हो पा रही है. इन विषम परिस्थितियों में नकुल-कमलनाथ द्वारा अपने जिले के लिए 15 वेंटिलेटर उपलब्ध कराना एतिहासिक कदम है.