12 शहरों में लॉकडाउन बढ़ाया…

लॉकडाउन की जगह कोरोना-कर्फ्यू शब्द का करें उपयोग : CM शिवराज

भोपाल। मध्यप्रदेश में कोविड-19 के बढ़ते मामले को देखते हुए मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कैबिनेट की एक अहम बैठक में कहा, मध्यप्रदेश में कोरोना की रफ्तार बढ़ती जा रही हैं और सरकार कोरोना की रफ्तार को कम करने की हर मुमकिन कोशिश कर रही हैं और हर स्तर तक प्रयास किए जा रहे हैं उन्होंने कहा कि अब लॉक-डाउन शब्द की जगह कोरोना-कर्फ्यू शब्द का उपयोग किया जाए ताकि इससे जनता में सतर्कता और जागरूकता बड़े और सरकार को पूरा सहयोग जनता का मिल सके।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आगे कहा कि मध्यप्रदेश के हर जिले में छोटे-छोटे कंटेन्मेंट ज़ोन बनाए जाए जहाँ कोरोना के मरीज़ ज़्यादा मिल रहे हैं वहाँ पर जागरूकता अभियान, रोको-टोको अभियान, मास्क लगवाए, शारीरिक दूरी बनाए रखने के लिए एक अभियान चलाए जिससे कोरोना को हराने में सरकार को जनता की मदद और सहयोग मिल सके। इस दौरान मध्यप्रदेश के उन जिलों में जहाँ कोरोना केस ज़्यादा तादाद में निकल रहे हैं वहाँ कंटेन्मेंट ज़ोन बनाकर लम्बा लॉक-डाउन का विचार भी आया, जिसकी शुरुआत भोपाल के कोलार इलाके से हो चुकी हैं जहाँ 9 दिन का लॉक-डाउन सरकार द्वारा लगाया गया हैं।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान 17 अप्रैल को एक समीक्षा बैठक भी करेंगे जिसमे तय किया जाएगा कि कंटेन्मेंट जोन बनाकर लंबा लॉक-डाउन लगाया जाए या नही, 17 अप्रैल को दमोह विधानसभा उपचुनाव में मतदान होने की प्रक्रिया भी पूरी हो जाएगी। उसके बाद शिवराज सरकार कोरोना की चैन को तोड़ने की सरकार के प्रयासों को और तेज़ करेगी। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पहले ही कह चुके हैं कि में लंबा लॉक-डाउन लगाने के पक्ष में नही हूँ और अगर कोरोना काबू में नही आता तो कोरोना की चैन तोड़ने के लिए लॉक-डाउन आखिरी विकल्प हैं।

प्रदेश में एक दिन में 5 हजारसंक्रमित मिलने के बाद इंदौर, जबलपुर, उज्जैन सहित 12 शहरों में लॉकडाउन बढ़ाया गया है। यह क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप के साथ हुई बैठक के बाद लिया गया। कोरोना की रोकथाम हेतु बड़वानी, राजगढ़, विदिशा ज़िलों में (शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में ) 19 अप्रैल सुबह 6 बजे तक लाॅकडाउन निरंतर रहेगा। इसी तरह बालाघाट, नरसिंघपुर, सिवनी ज़िलों (शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों) और जबलपुर शहर में 12 अप्रैल की रात से 22 अप्रैल की सुबह तक तथा इंदौर शहर, राऊ नगर, महू नगर, शाजापुर शहर और उज्जैन शहर (एवं उज्जैन ज़िले के सभी नगरों) में 19 अप्रैल सुबह 6 बजे बजे लाॅकडाउन निरंतर रहेगा।