शहर स्मार्ट हो इसके साथ ही हम लगातार प्रयास कर रहे हैं कि...

महिलाओं व युवतियों को पूर्ण सुरक्षा मिले और शहर रहे अपराध मुक्त : श्री सिंह

ग्वालियर। ग्वालियर को स्मार्ट बनाने के साथ साथ ही महिलाओं की सुरक्षा हमारी प्राथमिकता होगी। महानगर के एक सर्वे में ५२ हॉट स्पॉट सामने आये हैं जहां महिलाओं युवतियों से छेडखानी आदि की घटनाएं हो जाती हैं। वहीं उनका प्रयास है कि महानगर में रहने वाली महिलाओं के साथ ही युवतियों को पूर्ण सुरक्षा मिले और महानगर अपराध मुक्त रहे इसे लेकर हम सभी आगे बढकर प्रयास कर रहे हैं। कलेक्टर ने घोषणा की कि कल मंगलवार को होने वाली जन सुनवाई में महिलाओं के लिये एक अलग से डेस्क रहेगी। शहर स्मार्ट हो इसके साथ ही हम लगातार प्रयास कर रहे हैं कि महिलाओं व युवतियों को पूर्ण सुरक्षा मिले और शहर रहे अपराध मुक्त भी रहे। 

यह जानकारी सोमवार को कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर पत्रकारों से चर्चा में कही। उन्होंने कहा कि महिला बाल विकास सेफ सिटी व शहर विकास कार्यक्रम को संचालित कर रहा है। उन्होंने कहा कि विकास हमारी प्राथमिकता है लेकिन उसी के साथ ही प्रशासनिक एवं सामाजिक स्तर पर महिलाओं की सुरक्षा भी प्रमुख है। उन्होने कहा कि महिला सशक्तिकरण की बात तभी सार्थक सिद्ध होगी जब महानगर में हर उम्र, हर वर्ग और हर तबके की युवतियां और महिलायें उत्पीडन , हिंसा के बिना निजी सार्वजनिक और कार्य स्थलों पर बिना खौफ के आवाजाही कर सकें। यह काम सभी समुदाय व समाज द्वारा ही संभव हो सकता है। श्रीसिंह ने कहा कि महिला बाल विकास विभाग द्वारा पिछले सात माह पहले से एक सर्वे छात्र-छात्राओं से कराया गया उसके बाद महानगर में ५२ ऐसे स्पॉटस को चिन्हित किया गया जहां पर महिलाओं के छेडखानी के मामले होते हैं। 

यह आंकडे डायल १०० के अलावा अन्य नंबर एप से लिये गये हैं। उन्होंने बताया कि वह एक डिब्बे के साथ ही कोई ऐसा एप बनाने का प्रयास कर रहे हैं जिससे महिलाएं अपनी सुरक्षा के लिये  तत्काल पुलिस की मदद ले सकें। अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर कल नौ मार्च को कलेक्टर कार्यालय में अलग से महिला डेस्क होगी जहां महिला अधिकारी ही महिलाओं की समस्याओं को सुनेंगी और उसका निराकरण भी करेंगी। पत्रकार वार्ता में नगर निगम कमिश्रर शिवम वर्मा, स्मार्ट सिटी सीईओ जयति सिंह, एडीएम रिंकेश वैश्य, आशीष तिवारी,टीएन सिंह आदि भी मौजूद थे।