सभी व्यापारियों ने दिया बंद को समर्थन...

GST के कड़े प्रावधानों के विरोध में ग्वालियर बंद 26 को

ग्वालियर। जीएसटी के कड़े प्रावधानों के विरोध में व्यापारियों में खासा आक्रोश है। कैट के आह्वान पर शहर के सभी व्यापारी अपना प्रतिष्ठान बंद रखकर सरकार का विरोध करेंगे। कैट के इस ग्वालियर बंद से शहर में 50 करोड़ का व्यापार प्रभावित होगा। वहीं देश में 1 लाख करोड़ का व्यापार प्रभावित होने की उम्मीद है। जीएसटी के कड़े प्रावधानों को वापस लेने के लिए कैट के केंद्रीय पदाधिकारियों ने 26 जनवरी को भारत बंद का ऐलान किया था। 

भारत बंद कराने के लिए 11 फरवरी से व्यापारियों से संपर्क अभियान चलाया गया। इस अभियान के तहत कैट के प्रदेशाध्यक्ष भूपेंद्र जैन विभिन्न व्यापारिक संगठनों के पदाधिकारियों से मिले और उनसे बंद के लिए समर्थन मांगा। बंद को सफल बनाने के लिए कैट के पदाधिकारी विभिन्न बाजारों के प्रतिनिधि मंडलों से मिले थे। 

जीएसटी के जटिल प्रावधानों से परेशान सभी व्यापारियों ने कैट के पदाधिकारियो को बंद में समर्थन दिया था। कैट का यह देश व्यापी बंद दोपहर 2 बजे तक रखा जाएगा। कानून का गलत इस्तेमाल होगा, ईमानदार व्यापारियों की परेशानी बढ़ेगी। भ्रष्टाचार बढ़ेगा यदि किसी जीएसटीआर-1 और जीएसटीआर में गलती से अंतर मिलता है तो व्यापारी का नंबर कैंसिल हो सकता है। छोटी सी गलती पर व्यापारी को बड़ी सजा मिलेगी।