JU की इंजीनियरिंग अध्ययनशाला में हुआ सम्मान...

सफलता के लिए जरूरी है टीम स्पिरिटः प्रो. होलानी

यदि हम सफलता की बात करें तो इसके लिए टीम स्पिरिट बहुत जरूरी है। जब टीम के सभी लोग एक दिशा में मिलकर प्रयास करते हैं, तो उस संस्थान का विकास तेजी से होने लगता है, क्योंकि उस दौरान टीम के सभी सदस्यों का उद्देश्य एक दिशा में मिलकर होता है। 

यह बात जेयू के रेक्टर प्रो. उमेश होलानी ने कही। वह जीवाजी विश्वविद्यालय के इंजीनियरिंग अध्ययनशाला में अध्ययनशाला के पूर्व निदेशकों, उपनिदेशकों के सम्मान समारोह में बतौर मुख्य अतिथि बोल रहे थे। इस दौरान उन्होंने युवाओं को मोटिवेट भी किया। इस अवसर पर अध्ययनशाला की ओर े हिरेंद्र शर्मा, अजय मावई, नीतू सिकरवार, नैना शर्मा, अमृता भदौरिया सहित अन्य लोग मौजूद रहे। 

कार्यक्रम की अध्यक्षता इंजीनियरिंग अध्ययनशाला के डायरेक्टर प्रो. एसके गुप्ता ने की। प्रो. एसके गुप्ता ने कहा कि किसी भी उद्देश्य में सफलता के लिए नैतिम जिम्मेदारी भी जरूरी है। यदि हम टीम के सभी सदस्य मिलकर पीसीसी थ्योरी यानि कि प्लांनंग, कोऑर्डिनेशन, कॉपरेशन का पालन करें तो सक्सेस के चांस अधिक हो जाते हैं।