हार के बाद भी जिद पर अड़े ट्रंप...

सिर्फ कानूनी वोटों की हो गिनती : ट्रंप

अमेरिकी फर्स्ट लेडी मेलानिया ट्रंप ने अमेरिकी राष्ट्रपति चुनावी नतीजों पर अपनी चुप्पी तोड़ी है. डेमोक्रेटिक उम्मीदवार जो बिडेन की जीत पर मेलानिया ने अपने पति डोनाल्ड ट्रंप के दावों पर समर्थन किया है. उन्होंने ट्वीट कर लिखा है कि सिर्फ कानूनी वोटों की गिनती हो. बता दें कि ट्रंप ने चुनावों की प्रमाणिकता को चुनौती दी है और बड़े पैमाने पर फर्जी मतदान और चुनावी कदाचार का आरोप लगाया है. मेलानिया ने ट्वीट किया, 'अमेरिकी लोग निष्पक्ष चुनाव के हकदार हैं. हर कानूनी (अवैध वोट नहीं) वोट को गिना जाना चाहिए. हमें अपने लोकतंत्र की रक्षा पूरी पारदर्शिता के साथ करनी चाहिए.' 

इस बीच डोनाल्ड ट्रंप की टीम आज से कानूनी लड़ाई शुरू करने जा रही है. इससे पहले कल ये खबरें आई थी कि मेलानिया ट्रंप बहुत जल्द उन्हें तलाक दे सकती हैं. डेली मेल के मुताबिक, मेलानिया चुनाव के बाद ट्रंप का साथ छोड़ सकती हैं. मेलानिया ट्रंप की तीसरी पत्नी हैं. खबरों की मानें तो मेलानिया तलाक देने के लिए मिनट गिन रही हैं. जैसे ही ट्रंप व्हाइट हाउस छोड़ेंगे मेलानिया पंद्रह सालों की अपनी शादी तोड़ देंगी. दोनों की शादी साल 2005 में हुई थी. ये चौंकाने वाले दावे कोई और नहीं बल्कि मेलानिया के पूर्व सहयोगी स्टेफनी वोल्कॉफ ने ये दावे किए हैं.

ट्रंप अमेरिका का चुनाव हार चुके हैं लेकिन बौखलाहट में वे इसे स्वीकार नहीं कर रहे हैं. ट्रंप की पूर्व राजनीतिक सहयोगी ओमारोसा न्यूमैन ने दावा किया कि ट्रंप और मेलानिया की पंद्रह साल पुरानी शादी अब खत्म हो चुकी है. ट्रंप के व्हाइट हाउस से बाहर आते है मेलानिया उन्हें तलाक दे देंगी. अमेरिका में प्रमुख मीडिया संस्थानों ने डेमोक्रेटिक पार्टी की ओर से राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार जो बाइडेन को विजेता बताए जाने के बीच उनके प्रतिद्वंद्वी डोनाल्ड ट्रंप ने शनिवार को खुद को विजयी घोषित किया. ट्रंप ने ट्वीट किया, ‘‘इस चुनाव में मैं जीता, वह भी बड़े अंतर से.’’