48 घंटों में मांगा जवाब…

कमलनाथ के ‘आइटम’ वाले बयान पर EC ने भेजा नोटिस

नई दिल्ली। चुनाव आयोग ने मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के आइटम वाले बयान पर नोटिस जारी कर जवाब मांगा है. कमलनाथ को ये जवाब 48 घंटे में देना होगा. केंद्रीय चुनाव आयोग ने कमलनाथ को भेजे नोटिस में कहा है कि जिस तरीके के शब्दों का इस्तेमाल उन्होंने चुनाव प्रचार के दौरान किया है वो रिप्रजेंटेशन ऑफ पीपल एक्ट के प्रावधानों के खिलाफ है. लिहाज़ा वो चुनाव आयोग को 48 घंटे में जवाब देकर बताएं कि क्यों न उनके खिलाफ कार्रवाई की जाए?

चुनाव आयोग ने कमलनाथ को यह नोटिस बीजेपी के सांसद द्वारा दी गई शिकायत और राष्ट्रीय महिला आयोग द्वारा चुनाव आयोग को भेजी गई शिकायत के आधार पर भेजा है. चुनाव आयोग ने दी गई शिकायतों में साफ तौर पर कहा गया था कि मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने बीजेपी के उम्मीदवार इमरती देवी को लेकर जो बयान दिया है वह अपमानजनक है लिहाज़ा उनके खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए.

गौरतलब है कि कमलनाथ ने मध्यप्रदेश विधानसभा के लिए होने वाले उपचुनाव के दौरान चुनाव प्रचार करते हुए बीजेपी की महिला उम्मीदवार इमरती देवी को लेकर आइटम जैसे शब्द का इस्तेमाल किया था. इसको लेकर बीजेपी ने उन पर हमला भी किया था और खुद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने उपवास भी रखा था.

कमलनाथ के इस बयान को लेकर खुद कांग्रेस के उपाध्यक्ष राहुल गांधी भी अपनी असहमति जाहिर कर चुके हैं. लेकिन कमलनाथ ने अपने बयान को लेकर माफी मांगने से साफ इनकार कर दिया था. उन्होंने सफाई देते हुए यही कहा है कि आइटम जैसे सब का इस्तेमाल किसी भी तरह का अपमानजनक नहीं है और उन्होंने अपने बयान से किसी भी तरह से इमरती देवी का अपमान नहीं किया है.