कमर और पैर तोड़े, पीड़िता की मौत…

हाथरस के बाद यूपी के बलरामपुर में छात्रा से हुआ गैंगरेप


बलरामपुर। यूपी के हाथरस के बाद अब बलरामपुर में एक 22 साल की छात्रा के साथ गैंगरेप का मामला सामने आया है. अस्पताल ले जाने के दौरान उसकी मौत हो गई. मामला मंगलवार को बलरामपुर के कोतवाली गैंसड़ी क्षेत्र का है. पीड़िता की मां के मुताबिक, दरिदों ने उनकी बेटी की कमर और पैर तोड़ दिए थे और वह खड़ी नहीं हो पा रही थी. पीड़िता की मां ने बताया कि उनकी बेटी मंगलवार को करीब दस बजे कॉलेज में एडमिशन के लिए गई थी. तभी कुछ लड़कों ने उसका अपहरण कर लिया और उसके साथ गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया. शाम तक न लौटने पर परिजनों ने उसे फोन करना शुरू किया तो उसका फोन बंद आ रहा था. लड़की को एक रिक्शा वाला एक नाबालिग बच्चे के साथ बेहोशी की हालत में तकरीबन 7:00 बजे लेकर आता है. 

लड़की की हालत बेहद खराब थी और वो कुछ भी नहीं बोल पा रही थी. उसके हाथ पर ग्लूकोज चढ़ाने वालार ड्रिप लगा हुआ था. परिजन उसे लेकर स्थानीय डॉक्टर के पास ले गए लेकिन गम्भीर हालात देखते हुए उसने लखनऊ ले जाने को कहा. परिजनों के मुताबिक जिले के तुलसीपुर हॉस्पिटल पहुंचने से पहले रास्ते में उसकी मौत हो गयी. यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने ट्वीट करते हुए तुरंत कार्रवाई की मांग की है. उन्होंने कहा, “हाथरस के बाद अब बलरामपुर में भी एक बेटी के साथ सामूहिक बलात्कार और उत्पीड़न का घृणित अपराध हुआ है व घायलावस्था में पीड़िता की मृत्यु हो गयी है.

श्रद्धांजलि! भाजपा सरकार बलरामपुर में हाथरस जैसी लापरवाही व लीपापोती न करे और अपराधियों पर तत्काल कार्रवाई करे.” वहीं कांग्रेस नेता राज बब्बर ने कहा, “अब #Balrampur में भी दलित समाज की लड़की के साथ पाश्विक कृत्य किया गया है. ऐसी ही घटना आज़मगढ़ और बुलंदशहर में भी घटी है. हर मामले में पीड़िता को न्याय का इंतज़ार है. महिला सुरक्षा के वादे पर सत्ता में आई थी BJP पर उसे भुला दिया गया. बेटियों की जान के बदले मुआवज़े से क्या होगा?” उधर इस पूरे मामले पर पुलिस का कहना है कि इस मामले में नामजद आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है और आगे की जांच जारी है.