कोरोना पीड़ितों की संख्या में हो सकती है वृद्धि…

कोविड-19 से बचाव कि कलेक्टर ने की नागरिकों से अपील

मुरैना। कलेक्टर अनुराग वर्मा ने कहा है कि कोरोना संकट से हम पिछले 6-7 माह से जूझ रहे है और मुरैना ने बहुत अच्छे तरीके से इस लड़ी है। जिसमें यहां के नागरिकों का और सभी का सहयोग प्राप्त हुआ है। वर्तमान में लॉकडाउन पूरी तरह से खत्म है। त्यौहार का मौसम है। नवरात्रि बड़े धूमधाम से मनायी जा रही है। दुर्गा प्रतिमा के पाण्डाल भी लगे हैं और काफी बड़ी संख्या में लोग जा रहे हैं। लेकिन ये सबक लेने का समय है। राज्य शासन ने भी इस संबंध में एडवायजरी जारी की है और इसका एक उदाहरण हमारे सामने केरल का है। 

केरल में शुरूआती दिनों में बहुत अच्छी स्थिति थी। बाद में ओणम का त्यौहार आया और लोगों ने बड़े धूमधाम से मनाया। उसके बाद केरल में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या में अप्रत्याशित वृद्धि हुयी। स्वास्थ्य विभाग को भी ये आशंका है कि त्यौहार के सीजन में जिस तरह लोग बडी संख्या में लोग निकल रहे हैं और एक-दूसरे से मिल रहे हैं उससे आगामी दिनों में कोरोना पीड़ितों की संख्या में वृद्धि हो सकती है। 

उन्होंने जिले के नागरिकों से आग्रह किया है कि त्यौहार खुशीपूर्वक मनाएं, समारोहपूर्वक मनाएं लेकिन जो बेसिक प्रीकॉशन है जैसे मास्क पहनना, सेनिटाइजर लगाना, अनावश्यक भीड़ का हिस्सा न बनाना इसका पालन करें। उन्होंने कहा है कि जिला प्रशासन आगामी दिनों में इसका पालन कराने के लिए कटिबद्ध है। फिर से यह अभियान शुरू करने जा रहे हैं। 

दुर्गा प्रतिमा के पाण्डाल में या किसी भी सार्वजनिक स्थान पर अगर लोग बिना मास्क के पाये जाते हैं तो उसके विरूद्ध सख्त कार्रवाई होगी। उन्होंने सभी से आग्रह किया है कि यह खुशी का जो मौका है वह बरकरार रहे। यह तभी संभव है जब हम स्वस्थ्य रहें। इसकी पूरी कोशिश करें और पूरी चिंता कर सावधानीपूर्वक ही बाहर निकलें। आज हम जो अच्छी स्थिति में हैं वह तब ही बरकरार रहेगी जब हम अपनी सावधानी रखेंगे।