मार्क जकरबर्ग को चिट्ठी लिखी…

भाजपा और फेसबुक के बीच लिंक है : TMC



फेसबुक पोस्ट विवाद में कांग्रेस के बाद तृणमूल कांग्रेस ने फेसबुक के सीईओ मार्क जकरबर्ग को चिट्ठी लिखी है। इसमें आरोप लगाया गया है कि भाजपा और फेसबुक के बीच कोई लिंक है। पार्टी के सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने लिखा कि पश्चिम बंगाल में चुनाव होने में अभी कुछ ही महीने हैं, आपकी कंपनी ने बंगाल में फेसबुक पेज और अकाउंट्स को ब्लॉक करना शुरू कर दिया है। यह इसी कड़ी की तरफ इशारा करता है। उन्होंने कहा कि दोनों की मिलीभगत के सार्वजनिक तौर पर कई सबूत हैं। इनमें आपकी कंपनी के इंटरनल मेमो भी शामिल हैं। कुछ साल पहले, मैंने आपसे इनमें से कुछ मुद्दों पर चिंता जताई थी। भारत में फेसबुक प्रबंधन के खिलाफ इन गंभीर आरोपों की जांच के मामले में पारदर्शिता रखने की अपील की थी।

मंगलवार को आईटी मिनिस्टर रविशंकर प्रसाद ने फेसबुक के सीईओ मार्क जकरबर्ग को चिट्ठी लिखी थी। उन्होंने कहा, 'आपके कर्मचारियों ने मोदी सरकार के अधिकारियों को अपशब्द कहे और यह ऑन रिकॉर्ड है।' आईटी मिनिस्टर ने कहा-आपकी कंपनी के भीतर से ही चुनकर चीजों को लीक किया जा रहा है, ताकि एक वैकल्पिक झूठ को खड़ा किया जा सके। अंतरराष्ट्रीय मीडिया और फेसबुक कर्मचारियों का एक ग्रुप बदनीयती रखने वालों को हमारे देश के महान लोकतंत्र पर कलंक लगाने की खुली छूट दे रहा है।

फेसबुक हेट स्पीच मामले में कांग्रेस पिछले एक महीने में दो बार लेटर लिख चुकी है। कांग्रेस ने इनमें कहा था कि हेट स्पीच मामले में लगाए गए आरोपों पर आप क्या कदम उठाने जा रहे हैं और क्या उठाए गए हैं। कांग्रेस ने कहा था कि हम भारत में इस मामले पर कानूनी सलाह ले रहे हैं। अगर जरूरत पड़ी तो कार्रवाई भी की जाएगी। यह सुनिश्चित किया जा सके कि एक विदेशी कंपनी देश के सामाजिक ताने-बाने को नुकसान न पहुंचा सके।

राहुल गांधी ने 29 अगस्त को ट्वीट कर कहा था "टाइम ने वॉट्सऐप और भाजपा की साठगांठ का खुलासा किया है। 40 करोड़ भारतीय यूजर वाला वॉट्सऐप पेमेंट सर्विस भी शुरू करना चाहता है, इसके लिए मोदी सरकार की मंजूरी जरूरी है। इस तरह वॉट्सऐप पर भाजपा के नियंत्रण का पता चलता है।" टाइम की रिपोर्ट में कहा गया था कि फेसबुक भाजपा नेताओं के मामलों में भेदभाव करती है। वॉट्सऐप भी फेसबुक की कंपनी है।