कोरोना के लक्षण होने की अफ़वाह…

हम मिट्टी और गोबर में पैदा हुए कोरोना क्या  बिगाड़ लेगा : इमरती देवी

ग्वालियर। मध्य प्रदेश की कैबिनेट मंत्री इमरती देवी ने कहा कि वह मिट्टी और गोबर में पैदा हुई हैं, इसलिए कोरोना वायरस उनके निकट भी नहीं आ सकता है। मंत्री के बयान से संबंधित एक कथित वीडियो यहां सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। वीडियो तीन सितंबर का बताया जा रहा है जब मंत्री राज्यसभा सदस्य ज्योतिरादित्य सिंधिया के ग्वालियर प्रवास पर उनसे मिलने यहां पहुंची थीं। इस वीडियो में इमरती देवी कोरोना वायरस से स्वयं के संक्रमित होने की अफवाह फैलने पर नाराज दिखती हैं और संवाददाताओं यह कहती सुनाई देती हैं, ‘‘हम मिट्टी और गोबर में पैदा हुए हैं। कोरोना क्या बिगाड़ लेगा। ये मास्क भी वे जबर्दस्ती लगाए हुए हैं।’’ 

सूत्रों ने बताया कि दरअसल इस घटना के तीन दिन पहले मंत्री इमरती देवी की विकास कार्यों को लेकर अधिकारियों के साथ बैठक थी। इसी दौरान यह खबर सामने आई कि उनकी तबियत खराब है और वह बैठक से उठकर चली गईं। इसके बाद यह खबर फैल गई कि मंत्री में कोरोना के लक्षण पाए गए हैं। हालांकि इसी दिन वह शाम को भाजपा प्रदेशाध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा के साथ बैठक में शामिल हुईं। कोरोना के लक्षण होने की अफ़वाह के कारण वह मीडिया पर नाराज़ हुई थीं। कांग्रेस के नेता भी वीडियो सोशल मीडिया पर साझा कर रहे हैं। 

बता दें कि प्रदेश में इस वायरस से अब तक संक्रमित लोगों की कुल संख्या 70,244 तक पहुंच गयी है। वहीं मृतकों की संख्या 1,513 हो गयी है। राज्य में अब तक कोरोना वायरस से सबसे अधिक 411 मौत इंदौर में हुई हैं। भोपाल में 300, उज्जैन में 80, सागर में 58, जबलपुर में 91, ग्वालियर में 61, बुरहानपुर में 25, खंडवा में 23 एवं खरगोन में 30 लोगों की मौत हुई हैं। बाकी मौतें अन्य जिलों में हुई हैं। एक अधिकारी ने बताया कि प्रदेश में कुल 70,244 संक्रमितों में से अब तक 53,257 मरीज स्वस्थ होकर अपने घर चले गये हैं और 15,474 मरीजों का इलाज विभिन्न अस्पतालों में चल रहा है। उन्होंने कहा कि शुक्रवार को 1042 रोगियों को ठीक होने के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई। अधिकारी ने बताया कि अभी राज्य में कुल 5,764 निषिद्ध क्षेत्र हैं।