एक मुस्कुराता चेहरा जो सबको रुला गया...
नहीं रहे ऐक्टर सुशांत सिंह राजपूत

मुंबई। ऐक्टर सुशांत सिंह राजपूत अब इस दुनिया में नहीं रहे. उन्होंने कल मुंबई में अपने फ्लैट में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. आज उनका मुंबई में अंतिम संस्कार किया जाएगा. जानकारी मिली है कि सुशांत का परिवार और उनके कुछ करीबी लोग पटना से मुंबई पहुंच रहे हैं. इससे पहले खबर थी कि उनका पार्थिव शरीर पटना लाया जाएगा. सुशांत के परिवार ने कहा है कि सुशांत के फिल्म इंडस्ट्री के दोस्तों ने भी मुंबई में ही अंतिम संस्कार करने का आग्रह किया है.

सुशांत ने सुइसाइड क्यों किया है, इसको लेकर अभी तक जानकारी सामने नहीं आ पाई है. हालांकि पुलिस को सुशांत के दोस्तों ने बताया है कि वह बीते 6 महीने से डिप्रेशन में थे और दवाइयां टाइम से नहीं ले रहे थे. पुलिस को सुशांत के घर से डिप्रेशन के इलाज की फाइल मिली है. पुलिस ने यह पता करने के लिए कि क्या सुशांत सिंह राजपूत आर्थिक परेशानियों का सामना कर रहे थे, उनकी बैंक अकाउंट डीटेल मंगाई है. सुशांत सिंह राजपूत ने फिल्म  'एम एस धोनी', 'केदारनाथ' और छिछोरे जैसी कई फिल्मों में बेहतरीन ऐक्टिंग की थी. सुशांत ने छोटे पर्दे से अपने करियर की शुरुआत की थी. उनका टीवी सीरियल 'पवित्र रिश्ता' से दर्शकों के बीच काफी पॉप्युलर था और उन्होंने इसी सीरियल से घर-घर पहचान बनाई थी.

जानकारी के मुताबिक, क्राइम ब्रांच की टीम सुशांत के उस डॉक्टर से भी बात करेगी जो उनके डिप्रेशन इलाज कर कर रहे थे. सुशांत के घर में 2 कुक और 2 दोस्त उनके साथ रहते थे. उनके एक दोस्तों ने बताया कि सुशांत डिप्रेशन की वजह से दवाइयां ले रहे थे. वह लॉकडाउन में एक जर्नल भी लिख रहे थे. सुशांत सुबह 10 बजे कमरे से बाहर निकले थे. फिर जूस का ग्लास लेकर अंदर गए. उनके दोस्त ने बताया कि वह सुबह ठीक लग रहे थे, फिर कमरे में गए तो बाहर नहीं निकले. जब सुशांत का दरवाजा नहीं खुला तो उनके दोस्तों ने इसे तोड़ने की कोशिश की.  सुशांत के मैनेजर ने चाबी वाले को बुलाया इसके बाद दरवाजा खोला जा सका. अंदर सुशांत की लाश फांसी के फंदे से लटक रही थी.

मुंबई पुलिस के प्रवक्ता का कहना है कि सुशांत सिंह राजपूत ने आत्महत्या की है. पुलिस को अभी तक कोई सूसाइड नोट नहीं मिला है. मामले की जांच की जा रही है. पुलिस ने बताया कि इस मामले में कुछ भी संदेहजनक नहीं है. प्रथमदृष्टया फांसी लगाने का मामला है. पुलिस को सुशांत की बॉडी बेड पर पड़ी मिली. उनके बेडरूम में हरे रंग का कपड़ा पड़ा था जिसे पंखे से लटककर उन्होंने फांसी लगा ली.