कोरोना संकट के बीच एक बार फिर…
केंद्रीय रिजर्व बैंक के गवर्नर ने EMI देने वाले ग्राहकों को दी 6 महीने की राहत

नई दिल्ली। कोरोना संकट के बीच, केंद्रीय रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास ने एक बार फिर लोन की EMI भुगतान टालने (मोरेटोरियम) की सुविधा को बढ़ा दिया है. मतलब ये कि लोन की मासिक किस्त यानी EMI देने वाले ग्राहकों को कुल 6 महीने यानी 31 अगस्त तक की राहत मिल गई है। 

इसका मतलब ये हुआ कि आप कुल 6 महीने तक लोन या क्रेडिट कार्ड की मासिक किस्त (EMI) देने से बच सकते हैं. आपको बता दें कि बीते 27 मार्च को आरबीआई ने पहली बार बैंकों से EMI भुगतान टालने यानी मोरेटोरियम को कहा था. इसके बाद बैंकों ने 3 महीने के लिए अपने ग्राहकों को  EMI भुगतान टालने की छूट दी है. लेकिन अब इसी छूट को अतिरिक्त 3 महीने के लिए बढ़ाया गया है। 

इस दौरान लोन की ईएमआई देने के लिए बैंक आप पर दबाव नहीं बना सकता है. इसके साथ ही आप डिफॉल्टर भी नहीं कहे जाएंगे. मतलब ये कि आपके क्रेडिट स्कोर पर भी कोई असर नहीं पड़ने वाला है. हालांकि, इसका मतलब ये बिल्कुल नहीं है कि आपकी ईएमआई माफ कर दी जाएगी।