कोरोना वायरस को देखते हुए SC  का आदेश...

सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई के दौरान गैरजरूरी लोगों की एंट्री पर लगाई रोक


नई दिल्ली: कोरोना वायरस को देखते हुए सुप्रीम कोर्ट ने एहतियातन कदम उठाया और सुनवाई के दौरान गैरजरूरी लोगों की एंट्री पर रोक लगा दी। सुप्रीम कोर्ट ने आदेश जारी किया कि 'कोरोना वायरस के मद्देनज़र कोर्ट रूम में सिर्फ़ वही वकील आएंगे, जिनके मामले पर कोर्ट में सुनवाई होगी। एक असिस्टेंट वकील भी उनके साथ आ सकता है।' आदेश में कहा गया कि 'जरूरत के मुताबिक ही बेंच में जजों की संख्या होगी। कोर्ट में सीमित कामकाज ही होगा। सिर्फ अर्जेंट मामलों पर ही सुनवाई होगी।'

भारत में कोरोनावायरस के मरीजों की संख्या शुक्रवार को बढ़कर 81 पहुंच गई है। शुक्रवार सुबह तक देश में कोरोना वायरस के पॉजिटिव मामलों की संख्या 75 थी लेकिन शाम तक बढ़कर यह 81 हो गई है। स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक ने महाराष्ट्र में 3, केरल में 2 और कर्नाटक में एक और मामले बढ़े हैं जिस वजह से अब कुल संख्या 75 से बढ़कर 81 हुई है। ऐसे में राजधानी दिल्ली के साथ-साथ कई राज्यों ने कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए कदम उठाए।

दिल्ली सरकार ने गुरुवार को ही कोरोना वायरस को महामारी घोषित कर दिया था। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने वायरस का प्रसार रोकने के लिए सभी सिनेमा हॉल 31 मार्च तक बंद रखने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने कहा, "जिन स्कूलों और कॉलेजों में परीक्षा नहीं चल रही है, वो भी बंद रहेंगे।" केजरीवाल ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा, "हमने सभी सिनेमा हॉल और जिनकी परीक्षा 31 मार्च तक नहीं हो रही है उन स्कूलों को बंद करने का फैसला किया है।"

हरियाणा सरकार ने शुक्रवार को कोरोना वायरस के चलते 5 जिलों के सभी स्कूल (प्राइवेट और सरकारी) 31 मार्च तक बंद करने के आदेश जारी किए हैं। हरियाणा के स्कूल एजुकेशन डिपार्टमेंट ने सोनीपत, रोहतक, झज्जर, फरीदाबाद और गुरुग्राम के सभी (सरकारी-प्राइवेट) स्कूल बंद करने के आदेश जारी कर दिए हैं। हालांकि, बोर्ड और वार्षिक परीक्षाएं होंगी, उनमें कोई छूट नहीं रहेगी। साथ ही, टीचिंग और नॉन टीचिंग स्टाफ नियमित तौर पर ड्यूटी करते रहेंगे।

उत्तर प्रदेश में भी सभी स्कूल-कॉलेज को 22 मार्च तक बंद कर दिया गया है। सरकार ने शुक्रवार को बताया कि जहां-जहां परीक्षाएं चल रही हैं वहां परीक्षाएं रद्द नही होंगी और जहां परीक्षा शुरू नहीं हुई हैं वहां उसे अगले आदेश तक टाल दिया जाएगा। बेसिक शिक्षा, माध्यमिक शिक्षा, उच्च शिक्षा और तकनीकी शिक्षा तक के सभी स्कूल-कॉलेज बंद रहेंगे। सरकार ने कोरोना वायरस को महामारी घोषित कर दिया है। उत्तर प्रदेश में अबतक कोरोनावायरस के 11 मामले सामने आ चुके है।

बिहार में भी 31 मार्च तक सभी स्कूल-कॉलेजों को बंद कर दिया गया है। इसके अलावा आने वाले दिनों में राज्यभर में सांस्कृतिक आयोजनों पर भी रोक लगाई गई है। राज्य सरकार ने 31 मार्च तक सरकारी पार्क और चिड़ियाघरों को भी बंद रखने का फैसला किया है। वहीं, 22 मार्च से शुरू होने जा रहे बिहार दिवस को भी तत्काल स्थगित कर दिया गया है। आने वाले दिनों में स्पोर्ट्स और कल्चरल से संबंधित आयोजनों को भी बंद कर दिया जाएगा।

कर्नाटक और मध्य प्रदेश की सरकार ने भी कोरोना वायरस को रोकने के लिए कदम उठाए हैं। कर्नाटक में सभी स्कूल-कॉलेज, मॉल और मैरेज हॉल को एक हफ्ते तक बंद रखने का फैसला लिया गया है। मुख्यमंत्री ने शुक्रवार को इसकी जानकारी दी। वहीं, कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए मध्य प्रदेश में भी अगले आदेश तक सरकारी और निजी स्कूल बंद रखने के निर्देश दिया गया है।