सरकार ने रखा स्पेशल डिनर...

CAA पर बॉलीवुड का सपोर्ट जुटाने की कोशिश


सीएए और एनआरसी के खिलाफ देश भर में हो रहे प्रदर्शनों के बीच केंद्र सरकार बॉलीवुड के टॉप सितारों का समर्थन हासिल करने की कोशिश कर रही है. हफपोस्ट इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक, बॉलीवुड के टॉप सितारों को मुंबई के एक होटल में यूनियन मिनिस्टर ऑफ रेलवे कॉमर्स एंड इंडस्ट्री पीयूष गोयल के साथ मुलाकात का न्यौता दिया गया है. माना जा रहा है कि ये मीटिंग विवादित नागरिकता संशोधन कानून पर डिस्कशन के लिए बुलाई गई है.

इस मीटिंग की लिस्ट में करण जौहर, फरहान अख्तर, कबीर खान, रितेश देशमुख, विकी कौशल और आयुष्मान खुराना जैसे इंडस्ट्री के नामी-गिरामी कलाकारों के नामों को शामिल किया गया हैं. रिपोर्ट्स के अनुसार, ये मीटिंग मुंबई के ग्रैंड हयात होटल में रविवार की शाम हो सकती है.

इस इंवाइट के अनुसार, CAA पर बॉलीवुड की हर आवाज और हर मुद्दे को लेकर डिसक्शन किया जाएगा और इस कानून पर चल रही कई अफवाहों के बीच बॉलीवुड के सितारों के साथ लोकतांत्रिक डिस्कशन को अंजाम दिया जाएगा. इसके बाद खास डिनर का भी इंतजाम किया गया है.

हालांकि ये अभी तक साफ नहीं है कि कौन-कौन से सितारे इस मीटिंग के लिए पहुंचेंगे. इस मीटिंग के बारे में जानकारी मिलने पर कुछ लोग होटल ग्रैंड हयात के बाहर प्लेकार्ड्स के साथ अपना विरोध दर्ज कराने पहुंच गए. ये लोग इस मीटिंग के खिलाफ प्रोटेस्ट कर रहे थे.

इस मीटिंग को फिल्म प्रोड्यूसर महावीर जैन ने ऑर्गनाइज किया है. महावीर जैन बीजेपी पार्टी के करीबी माने जाते हैं. माना जा रहा है कि फिल्मी सितारों के समर्थन के साथ ही केंद्र सरकार जनता का समर्थन भी हासिल करने की कोशिश करेगी. गौरतलब है कि इससे पहले जैन की मदद से ही बॉलीवुड सितारों और पीएम मोदी की सेल्फी संभव हो पाई थी.

इस तस्वीर में पीएम मोदी के साथ इंडस्ट्री के टॉप सितारे नजर आए थे जिनमें रणबीर कपूर, करण जौहर, आयुष्मान खुराना, एकता कपूर, विकी कौशल, अश्विनी अय्यर तिवारी, राजकुमार राव, दीपिका पादुकोण, रणवीर सिंह, भूमि पेडनेकर जैसे कई सितारे शामिल थे.

गौरतलब है कि जहां सीएए  कानून को लेकर अनुराग कश्यप, जावेद अख्तर, अनुभव सिन्हा, मोहम्मद जीशान अयूब, स्वरा भास्कर, रेणुका शहाने, फरहान अख्तर जैसे सितारों ने विरोध किया है वही जामिया में पुलिस और स्टूडेंट्स के बीच हुई हिंसा पर प्रियंका चोपड़ा, राजकुमार राव, आयुष्मान खुराना और विकी कौशल जैसे सितारों ने भी आलोचना की थी. हालांकि किसी भी मेनस्ट्रीम सितारे ने इस कानून का खुलकर समर्थन नहीं किया है.