इमरान खान ने खेला विक्टिम कार्ड, की भारत की तारीफ़

हमारे हुक्मरान नालायक थे, इसलिए भारत हमसे बहुत आगे : इमरान 


पाकिस्तानी PM इमरान खान ने अपनी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव आने से एक दिन पहले बड़ी रैली की। उन्होंने इस्लामाबाद में अपने काम गिनाए, इमोशनल बातें कीं और भारत का भी जिक्र किया। कहा कि 90 के दशक में भारतीय टीम पाकिस्तान आती थी, तो उन्हें लगता था कि वे किसी अमीर मुल्क में हैं। आज भारत हमसे आगे है। ये हमारे हुक्मरानों की नालायकी का नतीजा है।

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के खिलाफ संसद में सोमवार को अविश्वास प्रस्ताव पेश किया जाएगा। इससे पहले रविवार को इस्लामाबाद में हुई रैली में इमरान खान ने विक्टिम कार्ड खेला और कहा कि उनको हटाने की साजिश के पीछे विदेशी ताकतों का हाथ हैं। वहीं उनकी सरकार में मंत्री फवाद चौधरी ने कहा कि इमरान खान को धोखा देने वालों को जनता कभी माफ नहीं करेगी। मंत्री फवाद चौधरी ने कहा कि इमरान खान को तख्त और ताज का लालच नहीं है। वो तो फकीर आदमी है। जिन लोगों ने इमरान खान की पीठ में छुरा घोंपने का काम किया है वो लोग इस्लामाबाद में छिपे बैठे हैं। 

मैं उनसे कहना चाहता हूं कि वो अपने इलाकों में खड़े होकर दिखा दें, उनको हर मिनट में 100 जूते पड़ेंगे। इमरान खान ने अपनी पार्टी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी की रैली को इस्लामाबाद के परेड ग्राउंड में संबोधित करते हुए कहा कि देश की विदेश नीति तय करने के लिए विदेशी ताकतें लोकल नेताओं का इस्तेमाल कर रही हैं। उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि उनके दावों की पुष्टि करने वाला एक लेटर सबूत के तौर पर उनके पास है। 

उन्होंने कहा, ‘पाकिस्तान में सरकार बदलने के लिए विदेशी धन के जरिए कोशिश की जा रही है। हमारे लोगों का इस्तेमाल किया जा रहा है। 

ज्यादातर लोग इससे अनजान हैं लेकिन कुछ लोग हमारे खिलाफ इस धन का इस्तेमाल कर रहे हैं।' गौरतलब है कि इमरान खान एक गठबंधन सरकार का नेतृत्व कर रहे हैं। इमरान खान के सहयोगी दल उनसे किनारा कर रहे हैं जबकि उनकी पार्टी के करीब दो दर्जन सांसद उनके खिलाफ बगावत कर चुके हैं। इमरान खान की पार्टी के 342 सदस्यीय नेशनल असेंबली में 155 सदस्य हैं और सरकार में बने रहने के लिए कम से कम 172 सांसदों के समर्थन की जरूरत होगी। 3-4 अप्रैल को संसद में अविश्वास प्रस्ताव पर वोटिंग हो सकती है।