दिल्ली और मुंबई में एक बार फिर…

कोरोना मामलों की संख्या में वृद्धि, दुबई से आनेवाले यात्रियों के लिए क्वारंटीन अनिवार्य


मुंबई। महाराष्ट्र में एक बार फिर कोरोना के मामले बढ़ने लगे हैं। मुंबई में शुक्रवार को कोरोना वायरस के 1,410 नए मामले सामने आए, जो 6 अक्टूबर के बाद सबसे अधिक हैं। इसके अलावा ओमिक्रॉन के भी 20 नये मामले दर्ज किये गये। इसके साथ ही प्रदेश में ओमिक्रॉन के मामले बढ़कर 108 पहुंच गये हैं। प्रदेश में एक्टिव मामलों की संख्या 8,426 है। पिछले कुछ दिनों में महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के मामलों में अचानक वृद्धि देखी गई है। बुधवार को 1,201 नए मामले सामने आने के बाद गुरुवार को 1,179 मामले और शुक्रवार को 1410 मामले दर्ज हुए। गुरुवार को महाराष्ट्र में ओमिक्रॉन वेरिएंट के भी 23 मामले दर्ज किए, जो अब तक एक ही दिन में सबसे अधिक मामले हैं।

BMC ने कोरोना के प्रसार को रोकने के लिए एक और कदम उठाया है। ताजा आदेश के मुताबिक दुबई से आनेवाले ऐसे सभी अंतरराष्ट्रीय यात्रियों को, जो मुंबई में रहते हैं, अपने घरों में 7 दिनों के अनिवार्य क्वारंटीन में रहना होगा। साथ ही इन्हें 7वें दिन RT-PCR टेस्ट कराना होगा। वहीं जो अंतरराष्ट्रीय यात्री मुंबई के अलावा महाराष्ट्र के दूसरे शहरो में रहते हैं, उन्हें पब्लिक ट्रांसपोर्ट का इस्तेमाल करने की इजाजत नहीं होगी। उनके लिए अलग गाड़ियों की व्यवस्था की जाएगी। आपको बता दें कि गुरुवार देर रात मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने राज्य COVID-19 टास्क फोर्स के सदस्यों के साथ बातचीत की और क्रिसमस और नए साल के जश्न, शादियों और होटलों और रेस्तरां में पार्टियों के दौरान भीड़ से बचने के तरीकों पर चर्चा की। उसके अगले ही दिन कोरोना मामलों में रिकॉर्ड वृद्धि दर्ज की गई। बीते 24 घंटों में दिल्ली में भी कोरोना के 180 केस सामने आए हैं, जो 16 जून के बाद से सबसे ज्यादा कोरोना मामले हैं। दिल्ली में इस समय कोरोना के एक्टिव केसों की संख्या 782 है जो बीते साढ़े पांच माह में सबसे ज्यादा है। देश की बात करें तो भारत में शुक्रवार की सुबह तक पिछले 24 घंटे में 6,650 नए COVID-19 केस दर्ज हुए हैं, जो गुरुवार की तुलना में 11.3 प्रतिशत कम हैं।