जनजातीय गौरव दिवस के अवसर पर…

ग्वालियर में उत्साह के साथ मनी बिरसा मुंडा जयंती


ग्वालियर। स्वाधीनता संग्राम के महापुरोधा भगवान बिरसा मुंडा की जन्म जयंती आज सम्पूर्ण देश में जनजाति गौरव दिवस के रूप में मनाई गई। ग्वालियर जिले में भी उत्साह और उमंग के साथ गौरव दिवस पर आयोजन हुए। जिले की ग्राम पंचायतों में प्रदेश की राजधानी से देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के कार्यक्रम का सीधा प्रसारण आदिवासी भाई बहनों ने बड़े उत्साह के साथ देखा। ग्वालियर जिला मुख्यालय पर आदिवासी समाज संगठन समिति एवं अनुसूचित जाति, जनजाति अधिकारी एवं कर्मचारी संघ (अजाक्स) के संयुक्त तत्वावधान में भगवान बिरसा मुंडा की जयंती का आयोजन अजाक्स कार्यालय परिसर में किया गया। 

गौरव दिवस पर आयोजित कार्यक्रम के मुख्य अतिथि के रूप में नगर निगम आयुक्त किशोर कान्याल उपस्थित हुए। निगम आयुक्त किशोर कान्याल ने भी आदिवासी भाई बहनों के साथ उनके पारंपरिक नृत्य और गान के कार्यक्रम में सहभागिता की और उनकी खुशी में सहभागी बने। नगर निगम आयुक्त किशोर कान्याल ने इस मौके पर आदिवासी समाज के इतिहास पर प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि सम्पूर्ण देश में स्वतंत्रता संग्राम के महान पुरोधा भगवान बिरसा मुंडा की जयंती 15 नवम्बर को मनाई जा रही है। 


देश भर में आदिवासी भाई बहनों में उत्साह का माहौल है। भगवान बिरसा मुंडा द्वारा किए गए कार्यों से हम सबको प्रेरणा लेना चाहिए। कार्यक्रम की अध्यक्षता महेशराम भगत एवं रामेश्वर भगत ने की। इस मौके पर विशिष्ट अतिथि के रूप में अजाक्स के जिला अध्यक्ष चौधरी मुकेश मौर्य और अजाक्स के प्रतिनिधि व बड़ी संख्या में आदिवासी समाज के महिला व पुरूष शामिल थे। बिरसा मुंडा की जयंती के अवसर पर आदिवासी समाज के लोगों ने अपनी पारंपरिक वेशभूषा और नृत्य के साथ कार्यक्रम में सहभागिता की। 

कार्यक्रम में जगपति भगत (अध्यक्ष) जतरू राम भगत, उमाशंकर भगत, डॉ. कृष्णा सिंह, जगदीश राजौरिया, सतेंद्र बौद्ध, विजय सिंघानिया, डी.एन.जाटव, अतर सिंह, पानसिंह, मनीष कन्नौजिया, डॉ.नवीन नागर, पवन कौशल, नीरज गौड़िया, सुरेश अम्ब, इंजी. सौरभ शाक्य, रमेश कुमार जाटव, सोनू कौशल, मनोहर कटारिया, इंजी.ज्योति दौहरे, बी.डी.कुबेर, दीपक खरे, बीरबल जाटव, राम माहौर एवं नृत्य मंडली में ऊषा भगत, जिरमइत भगत, मनपति भगत, उर्मिला भगत, गेंदो भगत, पार्वती पटेल तथा मंगल राम, रघुवीर भगत, लालसायं भगत, विरसाय भगत आदि उपस्थित थे।