प्रदेश के राज्यपाल के आदेशानुसार…

मध्यप्रदेश के महाधिवक्ता नियुक्त हुए जबलपुर के वरिष्ठ अधिवक्ता प्रशांत सिंह

जबलपुर। मध्य प्रदेश के महाधिवक्ता पुरुषेंद्र कौरव के न्यायाधीश बनने के बाद रिक्त हुए पद पर जबलपुर के वरिष्ठ अधिवक्ता प्रशांत सिंह की नियुक्ति का आदेश बुधवार को जारी कर दिया गया। मध्य प्रदेश के राज्यपाल के आदेशानुसार मध्य प्रदेश शासन, विधि और विधायी कार्य विभाग के प्रमुख सचिव गाोपाल श्रीवास्तव के हस्ताक्षर से आदेश जारी हुआ। 1992 में शुरू की थी वकालत : वरिष्ठ अधिवक्ता प्रशांत सिंह ने 1992 में पूर्व महाधिवक्ता रविनंदन सिंह के मार्गदर्शन में वकालत की शुरूआत की थी। 

1996 में स्वतंत्र वकालत शुरू कर दी। आगे चलकर पैनल लायर फिर अतिरिक्त महाधिवक्ता बनाए गए। लेकिन राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के संकल्प महाशिविर की जिम्मेदारी निभाने के लिए इस पद से इस्तीफा दे दिया। विश्व हिन्दू परिषद व राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ में कई महत्वपूर्ण दायित्व निभा चुके श्री सिंह फिलहाल आरएसएस के महाकोशल प्रांत के संघ प्रचारक हैं। रिट, सिविल, क्रिमनल, टैक्स व संवैधानिक सभी तरह की वकालत में समान रूप से महारत रखने वाले श्री सिंह को आगे चलकर वरिष्ठ अधिवक्ता नामांकित किया गया। 

मिलनसार व्यक्तित्व के धनी श्री सिंह जबलपुर के वकीलों के बीच लोकप्रिय हैं। राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ से गहरे जुड़ाव के कारण देश और प्रदेश के विधिजगत के समान विचारधारा के विधिवेत्ताओं के बीच भी उनकी खासी पैठ है। अतिरिक्त महाधिवक्ता के रूप में उनका कार्यकाल यादगार रहा। राज्य की ओर से दमदारी से पैरवी उनका अंदाज रहा है। लिहाजा, महाधिवक्ता के रूप में उनका प्रदर्शन महत्वपूर्ण होगा, ऐसा माना जा रहा है। उनका कहना है कि वे स्वयं पर किए गए भरोसे की कसौटी पर खरा उतरने कोई कोर-कसर बाकी नहीं रखेंगे।