कई दिनों से चल रहा था फरार…

आर्यन खान केस में गवाह केपी गोसावी गिरफ्तार

बॉलीवुड अभिनेता शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान के क्रूज ड्रग्स केस में गवाह केपी गोसावी को पुणे पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। केपी गोसावी पिछले कई दिनों से फरार चल रहा था। केपी गोसावी की गिरफ्तारी महाराष्ट्र के पुणे से हुई है। गोसावी पर पुणे में धोखाधड़ी का केस भी दर्ज है। केपी गोसावी की गिरफ्तारी के बाद पुणे पुलिस ने कहा है कि गोसावी ने सरेंडर नहीं किया है। हमने अपनी इंटेलिजेंस के आधार पर उसे गिरफ़्तार किया है। किरण गोसावी पर युवकों को विदेश में नौकरी दिलाने को लेकर लाखों की ठगी करने के मामले में केस दर्ज है। 

इस केस के बाद अब गोसावी के खिलाफ महाराष्ट्र में धोखाधड़ी और अन्य आरोप में दर्ज मामलों की संख्या चार हो गई है। गौरतलब है कि हाल ही में ड्रग्स केस के मुख्य गवाह प्रभाकर सैल ने आर्यन को छोड़ने के लिए केपी गोसावी पर 'डील' कराने के आरोप लगाए थे। प्रभाकर सैल खुद को केपी गोसावी का बॉडीगार्ड बताता है। प्रभाकर सैल ने दावा किया था कि क्रूज पार्टी रेड के वक्त वह गोसावी के साथ थे। प्रभाकर ने खुलासा किया था कि केपी गोसावी सैम नाम के शख्स से फोन पर 25 करोड़ रुपए से बात शुरू कर 18 करोड़ में डील फिक्स करने की बात कर रहा था। 

केपी गोसावी ने 8 करोड़ रुपए एनसीबी के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े को देने की भी बात कही थी। किरण गोसावी का नाम क्रूज ड्रग मामले के बाद सबसे पहले तब सामने आया जब उसने शाहरुख खान के बेटे आर्यन के साथ अपनी तस्वीर सोशल मीडिया पर पोस्ट की थी। उस समय कई लोगों का लगा था कि वह एनसीबी का अधिकारी है। एनसीबी ने बाद में साफ किया कि वह एक निजी जासूस और एक प्लेसमेंट एजेंसी का मालिक है और क्रूज मामले में 10 स्वतंत्र गवाहों में से एक है।