दुनियाभर की सुरक्षा एजेंसियां की परेशानी बढ़ी…

Taliban ने Haqqani नेटवर्क को सौंपी सुरक्षा की कमान

काबुल। अफगानिस्तान से इस वक्त बड़ी खबर सामने आ रही है. आतंकी संगठन तालिबान ने सुरक्षा की जिम्मेदारी हक्कानी नेटवर्क को सौंप दी है. बता दें कि हक्कानी नेटवर्क का अलकायदा से संबंध है और पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई हक्कानी नेटवर्क पर सीधे कंट्रोल करती है. इसी हफ्ते गुरुवार को अफगानिस्तान के नेशनल Reconciliation काउंसिल के चेयरमैन अब्दुल्लाह अब्दुल्लाह ने खलील अल रहमान हक्कानी  से मुलाकात की थी और काबुल की सुरक्षा की जिम्मेदारी हक्कानी नेटवर्क को सौंपी थी. जान लें कि हक्कानी नेटवर्क पूरी दुनिया समेत भारत के लिए भी बड़ा खतरा है. 

हक्कानी नेटवर्क को काबुल की सुरक्षा मिलने से दुनियाभर की सुरक्षा एजेंसियों की चिंता बढ़ गई है. हक्कानी नेटवर्क अफगानिस्तान में भारतीय ठिकानों पर आतंकी हमले करने में पहले भी शामिल रहा है. इस बीच अफगानिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति अशरफ गनी के भाई ने तालिबान का समर्थन करने का ऐलान किया है. बता दें कि करीब 220 भारतीय काबुल अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट  के बाहर फंस गए हैं. वो पिछले करीब 6 घंटे से एयरपोर्ट में एंट्री का इंतजार कर रहे हैं. काबुल में फंसे भारतीयों को भारत वापस लाने के लिए भारतीय वायुसेना का विमान C17 एयरपोर्ट पर मौजूद है. काबुल में फंसे भारतीय काफी डरे हुए हैं. वे जल्द से जल्द हस्तक्षेप की मांग कर रहे हैं.