कार्रवाई के दिए आदेश...

मजदूरों पर केमिकल छिड़काव से CM योगी नाराज


लखनऊ: बरेली में दूसरे जिलों से आए मजदूरों पर केमिकल के छिड़काव की घटना पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने नाराजगी जताई है. घटना की निंदा करते हुए सीएम योगी ने जिम्मेदार अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई के आदेश दिए हैं. साथ ही स्पष्ट किया कि सरकार हर प्रदेशवासी का सम्मान करती है.

बता दें कि प्रशासनिक अफसरों के अमानवीय रवैये का वीडियो भी सामने आया था, जिसे कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने ट्वीट किया था और सरकार से ऐसा न कराने की गुजारिश की थी. दरअसल, रविवार को बरेली में पुलिस की मौजूदगी में अस्थाई बस अड्डे पर जिले से गुजर रहे सैकड़ों लोगों पर यातायात पुलिस ने दमकल की गाड़ियों से केमिकल का छिड़काव कराया. घोल का पानी आंखों में पड़ने से कुछ लोगों की आंखें लाल हो गयीं और उन्हें जलन भी महसूस हुई. बताया गया कि मजदूरों पर एंटी लार्वा केमिकल का छिड़काव किया गया था.


यूपी सरकार से गुजारिश है कि हम सब मिलकर इस आपदा के खिलाफ लड़ रहे हैं लेकिन कृपा करके ऐसे अमानवीय काम मत करिए।

मजदूरों ने पहले से ही बहुत दुख झेल लिए हैं। उनको केमिकल डाल कर इस तरह नहलाइए मत। इससे उनका बचाव नहीं होगा बल्कि उनकी सेहत के लिए और खतरे पैदा हो जाएंगे।
11K people are talking about this

मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस करने आए अपर मुख्य सचिव, गृह ने बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दिल्ली की घटना को भी गंभीरता से लिया है. दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज में तबलीगी जमात के आयोजन से लौटे सभी लोगों की तुरंत पहचान कर उनकी जांच की जा रही है. निर्देश दिए गए हैं कि जिन लोगों ने अपनी पहचान जाहिर नहीं की उनके खिलाफ कार्रवाई की जाए. हालांकि आयोजन से लौटे 95 प्रतिशत लोगों की पहचान कर ली गई है. केवल 10 से 12 लोगों की पहचान करनी शेष है.
त्तर प्रदेश में अब लॉकडाउन का उल्लंघन करने वालों पर कड़ी कार्रवाई होगी. अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने मीडिया को बताया कि लॉकडाउन में अब सरकार सख्ती बढ़ा रही है. पैदल चलने वालों पर भी करवाई होगी. ऐसे लोगों को तुरंत क्वॉरंटीन किया जाएगा. साथ ही उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री ने दिल्ली और बरेली की घटनाओं को गंभीरता से लिया है, इस संबंध में त्वरित कार्रवाई के आदेश दिए हैं.